MS धोनी को लेकर BCCI ने कर दी ऐसी गलती,बीसीसीआई ने बना दिया कप्तान

0
81

इंग्‍लैंड के खिलाफ वनडे सीरीज में धीमी बल्‍लेबाजी के कारण महेंद्र सिंह धोनी हाल के दिनों में क्रिकेटप्रेमियों की आलोचना के केंद्रबिंदु रहे हैं. सीरीज के तीसरे वनडे में इंग्‍लैंड की जीत के बाद धोनी ने जब अम्‍पायर से मैच की बॉल मांगी तो सोशल मीडिया पर मानो कमेंट्स की बाढ़ आ गई. धोनी के संन्‍यास को लेकर अटकलों का दौर शुरू हो गया. हालांकि टीम इंडिया के कोच रवि शास्‍त्री ने तुरंत ही इन खबरों का खंडन कर दिया. शास्‍त्री ने दोटूक लहजे में कहा कि धोनी ने बॉलिंग कोच भरत अरुण को दिखाने के लिए यह गेंद ली थी. उन्‍होंने सीधे शब्‍दों में कहा था कि धोनी कहीं नहीं जा रहे हैं. बहरहाल धोनी का नाम एक बार फिर चर्चा में है. भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के प्‍लेयर प्रोफाइल पेज में माही को अभी भी टीम का कप्‍तान दिखाया गया. इसके बाद सोशल मीडिया पर प्रतिक्रियाओं का दौर शुरू हो गया और लोगों ने बीसीसीआई की इस चूक को लेकर जमकर चुटकी ली.

इस गलती को लेकर कई लोगों की प्रतिक्रियाएं बेहद रोचक रहीं. एक यूजर ने लिखा, ‘बीसीसीआई, अब मुझसे यह नहीं कहिए कि धोनी से उन्‍हें ऐसा करने के लिए मजबूर किया या उनके फैन यह कर रहे हैं.’ एक अन्‍य क्रिकेटप्रेमी ने लिखा, ‘वे (धोनी) दो वर्ष पहले कप्‍तानी छोड़ चुके हैं लेकिन बीसीसीआई को अभी भी लगता है कि वे टीम इंडिया के कप्‍तान हैं. अन्‍य सभी अस्‍थायी (टेंपरेरी) कप्‍तान है और कैप्‍टन कूल टीम के स्‍थायी कप्‍तान हैं.’ एक अन्‍य प्रतिक्रिया में कहा गया कि MSD के संन्‍यास को लेकर अफवाहें चल रही हैं लेकिन धोनी अभी भी बॉस बने हुए हैं. एक अन्‍य क्रिकेटप्रेमी ने लिखा-डियर बीसीसीआई, कृपया ध्‍यान रखें कि मौजूदा भारतीय टीम के कप्‍तान विराट कोहली हैं, एमएस धोनी नहीं, कृपया अपनी गलती को दुरुस्‍त कर लें. एक अन्‍य ने ट्विटर पर यहां तक लिखा दिया कि ऐसा लगता है कि बीसीसीआई चाहता है कि उसके पूर्व कप्‍तान (धोनी) फिर से चार्ज लें या फिर वे अपनी वेबसाइट को अपडेट करना भूल गए हैं.

टीम इंडिया के पूर्व कप्‍तान धोनी ने इंग्‍लैंड के खिलाफ वनडे सीरीज के दूसरे मैच में 58 गेंद पर 38 और सीरीज के तीसरे मैच में 66 गेंदों पर चार चौकों की मदद से 42 रन बनाए थे. इन दोनों मैचों में भारतीय टीम को हार का सामना करना पड़ा था. सीरीज के बाद टीम इंडिया के पूर्व कप्‍तान सौरव गांगुली भी धोनी के इस प्रदर्शन से नाखुश नजर आए. उन्‍होंने अपनी प्रतिक्रिया में कहा था कि यदि धोनी वर्ल्‍डकप 2019 के लिए टीम इंडिया की पसंद हैं तो उन्‍हें उन्‍हें अपने खेल में सुधार करना होगा. सौरव ने कहा था कि कहा, ‘अगर धोनी को खिलाया जाता है तो उन्‍हें हिटिंग करनी होगी. अगर 24-25 ओवर हुए हैं और पारी को संवारना है तो उन्‍हें परेशानी का सामना करना पड़ रहा है.

गौरतलब है कि धोनी टेस्‍ट क्रिकेट से संन्‍यास ले चुके हैं और इस समय भारत के लिए टी20 और वनडे क्रिकेट खेल रहे हैं. 37 वर्षीय धोनी के नाम पर टेस्‍ट क्रिकेट में 4876 रन दर्ज है, जिसमें छह शतक शामिल हैं. 321 वनडे मैचों में उन्‍होंने 10 शतकों की मदद से 10046 और 93 टी20 मैचों में 1487 रन बनाए हैंकहा, ‘अगर धोनी को खिलाया जाता है तो उन्‍हें हिटिंग करनी होगी. अगर 24-25 ओवर हुए हैं और पारी को संवारना है. वनडे में धोनी का बल्‍लेबाजी औसत 51.26 और टी20 में 37.17 का है. एक समय धोनी के टीम इंडिया के सर्वश्रेष्‍ठ फिनिशरों में शुमार किया जाता था लेकिन आलोचकों का मानना है कि उम्र गुजरने के साथ उनकी बल्‍लेबाजी में अब पहले जैसी तेजी नहीं रह गई है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here