मूंछों वाली राजकुमारी, दुनियाभर में मशहूर थी इनकी खूबसूरती

0
56

आज लोग हर दिन फिट रहने की कोशिश में लगे रहते हैं लेकिन पहले ऐसा नहीं था। मोटापे को खूबसरती माना जाता है। 19वीं सदी की बात करें तो ईरान की प्रिंसेज ताज अल कज़र सुल्ताना की सुंदरता के किस्से आज भी याद किए जाते हैं। उन्होंने सुंदरता के सभी मानकों को तोड़ दिया था। प्रिंसेज के चेहरे पर घनी आईब्रो और लंबी मूछें थीं। साथ ही वो काफी मोटी हुआ करती थीं। उस दौर में इसे ही सुंदरता माना जाता था। राजकुमारी की खूबसूरती पर फिदा 13 लोगों ने ठुकराए जाने के बाद खुदकुशी तक कर ली थी। वो हिजाब उतारने वाली और वेस्टर्न कपड़े पहनने वाली उस दौर की पहली महिला थीं।

प्रिंसेज कजर पर्सिया के राजा नासिर अल दिन शाह कजर की बेटी थीं। शाह ने 1848 से लेकर मई 1896 तक राज किया था। प्रिंसेज कजर को पर्सिया में खूबसूरती का प्रतीक घोषित कर दिया गया था। द ह्यूमर नेशन वेबासाइट के मुताबिक, बड़ी संख्या में ऐसे नौजवान थे, जो प्रिंसेज की खूबसरती के दीवाने थे और उनसे शादी करना चाहते थे। प्रिंसेज की ओर से ठुकराए गए करीब 13 युवाओं ने सुसाइड भी कर लिया था।

उनकी शादी अमीर हुसैन खान शोजा ए सल्तनेह से हुई थी। इस शादी से उनके चार बच्चे थे, जिसमें दो बेटियां और दो बेटे थे। हालांकि, बाद में उनका तलाक हो गया। मीडिया रिपोर्ट्स में ये भी दावा किया जाता है कि उनके कई अफेयर रहे। गुलाम अली खान अजीजी अल सुल्तान से उनके अफेयर की बात कही जाती है। वहीं, इनका दूसरा अफेयर ईरानी कवि आरिफ काजविनी से बताया जाता है।

खूबसूरती के साथ ही साथ उन्हें अपने दौर की मॉडर्न महिला माना जाता था। वो राइटर, पेंटर और एक्टिविस्ट थीं। महिला अधिकारों के लिए आवाज उठाने की परंपरा उन्होंने ही शुरू की थी। वो हिजाब उतारने वाली उस दौर की पहली महिला मानी जाती हैं। वो वेस्टर्न कपड़े भी पहनती थीं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here