केरल बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए आगे आया यूएई, 700 करोड़ देने की कही बात

0
34

केरल में जलस्तर बेशक पहले के मुकाबले में कम हो रहा है कि लेकिन इस प्राकृतिक आपदा की वजह से राज्य को 21,000 करोड़ रुपए का नुकसान हो गया है। राज्य में फिलहाल राहत एवं बचाव कार्य जारी है। वहीं बाढ़ की वजह से अब तक 400 लोगों की मौत हो चुकी है। निवासियों को फिर से बसाना सरकार के लिए बहुत बड़ी चुनौती है क्योंकि एक लाख इमारतों को नुकसान पहुंचा है। वहीं 10,000 किलोमीटर के हाईवे और रोड के साथ ही हजारों पुल बाढ़ में बह गए हैं। लाखों हेक्टेयर भूमि पर लगी फसलें बर्बाद हो गई हैं।

ऐसी मुश्किल घड़ी में केरल की तरफ देश के आम से लेकर खास लोगों ने मदद का हाथ बढ़ाया है। राज्य को केंद्र सरकार से जहां 500 करोड़ रुपए की सहायता राशि मिली है। वहीं कई राज्य सरकारों ने भी केरल की मदद के लिए राशि देने की घोषणा की है। अब केरल को पटरी पर लाने के लिए संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) भी आगे आया है। यूएई ने राज्य को 700 करोड़ रुपए की सहायता देने की बात कही है। इस बात की जानकारी खुद मुख्यमंत्री पिनरई विजयन ने दी। वहीं यूएई के वीपीएस हेल्थकेयर के प्रबंध निदेशक डॉक्टर शमशीर वायलील ने बाढ़ पीड़ितों को 50 करोड़ रुपए दान किए हैं।

आपको बता दें कि अब तक केंद्र सरकार की तरफ से केरल बाढ़ पीड़ितों के लिए 600 करोड़ की वित्तीय सहायता दी गई है. पहले केरल को 100 करोड़ की सहायता दी गई थी, उसके बाद पीएम मोदी ने केरल दौरे के दौरान उन्हें 500 करोड़ देने का ऐलान किया था. इस बीच यूएई द्वारा 700 करोड़ की सहायता के ऐलान ने केंद्र की निष्पक्षता पर सवाल खड़े कर दिए हैं, जानकारों का कहना है कि केरल राज्य में कम्युनिस्ट सरकार होने से केंद्र इसे तवज्जो नहीं दे रहा है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here